हिन्दी मुहवरे - 3 -देवसुत

posted Oct 24, 2013, 6:55 AM by A Billion Stories

-1-
मछली के बच्चे को तैरना कौन सिखाता है

अर्थः गुण जन्मजात आते हैं।

-2-
मजनू को लैला का कुत्ता भी प्यारा

अर्थः प्रेयसी की हर चीज प्रेमी को प्यारी लगती है।

-3-
मतलबी यार किसके, दम लगाया खिसके

अर्थः स्वार्थी व्यक्ति को अपना स्वार्थ साधने से काम रहता है।

-4-
मन के लड्ड़ओं से भूख नहीं मिटती

अर्थः इच्छा करने मात्र से ही इच्छापूर्ति नहीं होती।

-5-
मन चंगा तो कठौती में गंगा

अर्थः मन की शुद्धता ही वास्तंविक शुद्धता है।

-6-
मरज़ बढ़ता गया ज्यों- ज्यों इलाज करता गया

अर्थः सुधार के बजाय बिगाड़ होना।

-7-
मरता क्या न करता

अर्थः मजबूरी में आदमी सब कुछ करना पड़ता है।

-8-
मरी बछिया बाभन के सिर

अर्थः व्यर्थ दान।

-9-
मलयागिरि की भीलनी चंदन देत जलाय

अर्थः बहुत अधिक नजदीकी होने पर कद्र घट जाती है।

-10-
माँ का पेट कुम्हार का आवा

अर्थः संताने सभी एक-सी नहीं होती।

-11-
माँगे हरड़, दे बेहड़ा

अर्थः कुछ का कुछ करना।

-12-
मान न मान मैं तेरा मेहमान

अर्थः ज़बरदस्ती का मेहमान।

-13-
मानो तो देवता नहीं तो पत्थर

अर्थः माने तो आदर, नहीं तो उपेक्षा।

-14-
माया से माया मिले कर-कर लंबे हाथ

अर्थः धन ही धन को खींचता है।

-15-
माया बादल की छाया

अर्थः धन-दौलत का कोई भरोसा नहीं ।

-16-
मार के आगे भूत भागे

अर्थः मार से सब डरते हैं।

-17-
मियाँ की जूती मियाँ का सिर

अर्थः दुश्मन को दुश्मन के हथियार से मारना।

-18-
मिस्सों से पेट भरता है किस्सों से नहीं

अर्थः बातों से पेट नहीं भरता।

-19-
मीठा-मीठा गप, कड़वा-कड़वा थू-थू

अर्थः मतलबी होना।



Photo by:
Submitted by: देवसुत
Submitted on: Sat Mar 09 2013 09:37:20 GMT+0530 (IST)
Category: Ancient Wisdom
Language: हिन्दी/Hindi
Copyright: Copy Free


- Read submissions at http://abillionstories.wordpress.com
- Submit a poem, quote, proverb, story, mantra, folklore, article, painting, cartoon, drawing, article in your own language at http://www.abillionstories.com/submit

Comments