नया साल -Hindustani

posted Jan 4, 2015, 11:17 AM by A Billion Stories
आ हम सब बेताब है,
स्वागत तेरा करने को,
अरमानों को पंख लगे है,
ज़िद है ऊंचा उड़ने की।

बेहतरी की खुश्बुओ संग,
उम्मीदों का गुलदस्ता आएगा।
नया मोड़ जिंदगी को देकर,
रंग-बिरंगे पुष्प खिलायेगा।

नई योजनाओ, संकल्पो संग,
सृजन दीप जलाएगा।
नया साल अब देर न कर,
बेताब गले लगाने को।

-Hindustani

Photo by:
Submitted by: Hindustani
Submitted on: Wed Dec 31 2014 10:05:45 GMT+0530 (IST)
Category: Original
Language: हिन्दी/Hindi


- Read submissions at http://abillionstories.wordpress.com
- Submit a poem, quote, proverb, story, mantra, folklore, article, painting, cartoon, drawing, article in your own language at http://www.abillionstories.com/submit

Comments